महाराणा प्रताप महाविद्यालय, जंगल धूसड़, गोरखपुर

  आज के सुविचार
  •   इस संसार में हर इंसान अलग है इसलिए जो जैसा है उसे वैसा ही स्वीकार करना सीखें

  •   जो मनुष्य दूसरों का मर्म समझते हैं वास्तव में वही महापुरुष हैं

  •   lnkpkj gh dY;k.k dh tud vkSj dhfrZ dks c<+kus okyk gSA

  •   tks euq"; vius eu dks fu;a=.k esa ugha j[k ldrk] og 'k=q ds leku dk;Z djrk gSA

  •   tks O;fDr ifo= vkSj lglh gS oks dqN Hkh dj ldrk gSA

  •   tks fpUrk djrk gS] og nq[kh gSA tks fpUru djrk gS] og lq[kh gSA

  •   vkidk drZO; gh /keZ gS] izse gh bZ'oj gS] lsok gh iwtk gS vkSj lR; gh HkfDr gSA

  •   ln~xq.kksa ds fodkl esa fd;k gqvk dksbZ Hkh R;kx dHkh O;FkZ ugha tkrkA

  •   pfj=oku O;fDr gh fdlh jk’Vª dh okLrfod lEink gSaA

  •   ekuo thou dk ewy mn~ns'; lekt dh lPph lsok djrs gq, vkRe dY;k.k djuk gSA

आज के कार्यक्रम

सम्पूर्ण देखे

महाविद्यालय की पाठ्यक्रम योजनाएँ : महाविद्यालय की पाठ्यक्रम योजनाएँ 2020-21 सत्र से पूर्व की यहाँ देंखें

सत्र :
विषय :